Prehistoric Era : Important Questions

Prehistoric Era : Important Questions

  1. जिस समय के मनुष्यों के जीवन की जानकारी का कोई लिखित साक्ष्य नहीं मिलता उसे क्या कहते हैं ?
    उत्तर : प्राक इतिहास या प्रागैतिहास।
    व्याख्या :प्राक इतिहास काल के प्राप्त अवशेषों से ही उस काल के जीवन के बारें में जानते हैं। इस समय उपलब्ध प्रमाण उनके औजार है जो पत्थरों से निर्मित हैं।
  2. होमो सैपियन्स (ज्ञानी मानव ) का आविर्भाव किस समय हुआ माना जाता है ?
    उत्तर :तीस -चालीस हजार वर्ष पूर्व।
  3. किस इतिहासकार को प्रागैतिहासिक पुरातत्व का जनक कहा गया है ?
    उत्तर : ए. कनिंघम।
  4. औजारों की प्रकृति के आधार पर प्राक इतिहास को कितने भागों में बाँटा गया है ?
    उत्तर :तीन भागों में।
    व्याख्या : औजारों की प्रकृति के आधार पर प्राक इतिहास को तीन भागों में बाँटा है -पूरा पाषाण काल ,मध्य पाषाण काल तथा नव पाषाण काल।
  5. पश्चिमोत्तर भारत के सोहन घाटी क्षेत्र से किस काल के साक्ष्य प्राप्त हुए ?
    उत्तर : पुरा पाषाण काल संस्कति।
    व्याख्या : यहाँ पर स्थित चौंतरा नामक स्थान से हस्तकुठार तथा शल्क पाए गए हैं।
  6. मध्य पाषाण काल में किस धातु के औजार बनाए जाते थे ?
    उत्तर : क्वार्टजाइट एक दानेदार मेटामॉर्फिक चट्टान के।
    व्याख्या :- मध्य पाषाण काल में क्वार्टजाइट के औजार तथा हथियार बनाएं जाते थे। प्रताप गढ़ (उ. प्र.) में स्थित सरायनाहर राय ,महदहा तथा दमदमा भारत के सबसे पुराने ज्ञात मध्य पाषाणकालीन स्थल है। स्थाई निवास का प्रारम्भिक साक्ष्य सराय नाहर राय एवं महदहा से स्तम्भ गर्त के रूप में मिलता है। भीमबेटका से चित्रकारी के प्राचीनतम शाक्ष्य प्राप्त हुए हैं।
  7. मध्य पाषाण कालीन स्थल बागौर भारत के किस राज्य में है ?
    उत्तर : राजस्थान।
    व्याख्या :- बागौर तथा आदमगढ़ (मध्य प्रदेश) से पशुपालन का प्राचीनतम साक्ष्य प्राप्त हुआ है। आदमगढ़ की गुफाओं से चत्रकारी का प्रमाण मिला है , जिनमे आखेट ,नृत्य तथा युद्ध गतिविधियों को चित्रित किया गया है।
  8. किस काल में शवों को दफनाने की प्रथा प्रारम्भ होने के साक्ष्य प्राप्त हुए हैं ?
    उत्तर : मध्य पाषाण काल।
    व्याख्या :– मध्य पाषाण काल के मनुष्यों ने अनुष्ठान के साथ शवों को दफनाने की प्रथा प्रारम्भ की। मध्य भारत की लेखनियों से ऐसा साक्ष्य प्राप्त हुए हैं।
  9. किस ने सबसे पहले नवपाषाण या नियोलिथिक शब्द का प्रयोग किया ?
    उत्तर : सर जॉन लुबाक।
    व्याख्या :- नवपाषाण काल में पहिये का आविष्कार हुआ। इस काल की प्रमुख विशेषता खाद्य उत्पादन ,पशुओं के उपयोग की जानकारी तथा स्थिर ग्राम्य जीवन का विकास था।
  10. प्रसिद्ध नव पाषाणकालीन स्थल मेहरगढ़ कहाँ स्थित है ?
    उत्तर : पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रान्त में।
    व्याख्या :- मेहरगढ़ में 7000 ई. पू. में कृषि कार्य का प्राचीनतम साक्ष्य प्राप्त हुआ है। यहाँ से गेहूं तथा जौ की खेती के प्रमाण मिले हैं।
  11. किस पाषाणकालीन स्थल में मानव को कुत्ते के साथ दफनाने के साक्ष्य मिले हैं ?
    उत्तर : बुर्जहोम (कश्मीर ) में।
    व्याख्या : कश्मीर में नवपाषाण कालीन स्थल बुर्जहोम एवं गुफ्फ्कराल का पता चला है। बुर्जहोम से स्तम्भ गर्तगृह का साक्ष्य मिला है। मनुष्य के साथ कुत्ते ,भेड़िये तथा जंगली बकरे के शवाधान भी प्राप्त हुए हैं। गुफ्फ्कराल में सिलबट्टा और हड्डी की सुई मिले है।
  12. बेलन की घाटी में स्थित कौन से स्थान में 7000 -6000 ई पू चावल की कृषि का साक्ष्य मिले हैं ?
    उत्तर : कोल्डिहवा (उत्तर प्रदेश )
  13. किस प्रागैतिहासिक कालीन स्थल में हड्डी के बने उपकरण प्राप्त हुए हैं ?
    उत्तर : चिरांद (बिहार )
    व्याख्या :- चिरांद से हड्डी के अनेक उपकरण पाए गए हैं , जो हिरण के सींगो के है। इसी काल में मनुष्य ने सर्वप्रथम कुत्तों को पालतू बनाया।
  14. मृदभांड के प्राचीनतम साक्ष्य किस स्थल से प्राप्त हुए ?
    उत्तर : चौपानिमाण्डो।
  15. मनुष्य ने सबसे पहले किस धातु का उपयोग किया ?
    उत्तर : ताँबा।
    व्याख्या : मनुष्य ने सबसे पहले जिस धातु का उपयोग आरम्भ किया वह तांबा थी। ताँबे से जिस युग में औजार अथवा हथियार बनाए जाने लगे उसे ताम्र पाषाणकाल कहा जाता है।
    महत्वपूर्ण स्थल : बुर्जहोम,गुफ्फ्कराल (कश्मीर), चिराँद,सेनुआरा (बिहार), मास्की, ब्रहागिरि, हल्लुक (कर्नाटक), पिकलीहल (आ.प्र.), पैयमपल्ली(तमिलनाडु ) कोल्डीहबा ,महागढ (उत्तर प्रदेश ) इत्यादि ।

ll Prehistoric Era : Important Questions ll

Geography of Himachal Pradesh

Leave a Reply