शाढ़ी जातर – जिला कुल्लू हिमाचल प्रदेश

शाढ़ी जातर – जिला कुल्लू हिमाचल प्रदेश

  • यह उझी घाटी का एक बड़ा मेला है जो नगर में त्रिपुरा सुन्दरी के मन्दिर के सामने मनाया जाता है।
  • यह मेला ज्येष्ठ मास में मनाया जाता है परन्तु देवी त्रिपुरा सुन्दरी की “सोह”(क्रीड़ा स्थल) शाढ़ी होने के कारण इसे शाढ़ी जातर कहते हैं।
  • यह मेला सात दिन तक चलता है परन्तु मुख्य रूप में तीन दिन ही होता है।
  • जिस वर्ष शिरढ़ काहिका नहीं होता है उस वर्ष शाढ़ी जातर में अधिक भीड़ होती है।
  • ढलवां भूमि पर अपनी विशिष्ट वेश भूषा में बैठे लोग तथा देव प्रांगन में वाद्य ताल पर झूमते नृत्य करते हैं।
  • लोग बड़ा अनुपम दृश्य प्रस्तुत करते हैं।

शाढ़ी जातर – जिला कुल्लू हिमाचल प्रदेश

इसे भी पढ़े : हिमाचल प्रदेश का सामान्य ज्ञान

Leave a Reply