पंगवाल जनजाति की शादी की रस्में

पंगवाल जनजाति की शादी की रस्में पांगी में विवाह की पूरी रस्म के चार प्रक्रियाएं होती है। इनका नाम है, पिलम, फक्की, छक्की और शादी। यहाँ शादी के लिये लड़के वाले ही लड़की वाले के यहां जाते हैं और प्रार्थना करते हैं। सर्व प्रथम लड़के का पिता अपने किसी…

0 Comments

पंगवाल : हिमाचल प्रदेश की जनजाति

पंगवाल : हिमाचल प्रदेश की जनजाति पाँगी क्षेत्र में रहने के कारण पंगवाल नाम पडा है। चम्बा के पांगी क्षेत्र के लोगों को पंगवाल कहते हैं। पांगी घाटी चंद्रभागा और संसारी नाले के बीच स्थित है। पांगी एक दुर्गम क्षेत्र है जिसका सर्दियों में देश प्रदेश के हरभूभाग से…

0 Comments

किन्नर जनजाति : हिमाचल प्रदेश की जनजाति

किन्नर जनजाति : हिमाचल प्रदेश की जनजाति परिचय -किन्नर या किन्नौरा वर्तमान किन्नौर निवासियों को कहते हैं। किन्नर शब्द संस्कृत के दो शब्दों किम + नर: से बना है जिसका शाब्दिक अर्थ है, ये कैसे नर हैं? (अयम किम नर:) ऋग्वेद, महाभारत व अन्य भारतीय वाङ्गमय से किन्नरों का…

0 Comments

Indian Art and Culture – HPAS Mains

Indian Art and Culture - HPAS Mains Consider the following statements with regard to India's Culture Heritage: Also watch this video: 1.Migrants of different countries have not influenced India's culture heritage2.Krishna and Radha are one of the favourites of Indian artist and can be found in all forms of…

0 Comments

खम्पा या खाम्पा : हिमाचल की जनजाति

खम्पा या खाम्पा : हिमाचल की जनजाति जो तिब्बती भारतीय सीमा में आने के बाद से अभी तक घुमन्तु जीवन बिता रहे हैं इन्हे खम्पा कहते है। यह एक व्यापारिक जनजाति है। ये भारत और तिब्बत में व्यापार करते है। महिलाएं भी सुई ,कंघा ,जम्बू ,हींग आदि बेचने के…

0 Comments

Marriage Types in Himachal Pradesh

Marriage Types in Himachal Pradesh झांजराड़ा/गद्दर या परैना इस विवाह में शादी तो लड़का -लड़की के माता पिता तय करते हैं ,परन्तु शादी की तिथि को लड़का दूल्हा बन कर नहीं जाता। लड़के के पिता ,भाई अपने रिश्तेदारों और गाँव वालों को लेकर जिनकी संख्या 5 ,7 ,11 तक…

0 Comments

Beth Begaar and Reet Social Practices in HP

Beth Begaar and Reet Social Practices in HP बेठ (Beth) बेठ : निम्न जातियों से जबरदस्ती बिना मजदूरी दिए उच्च जातियों द्वारा सेवा प्राप्त करने की प्रथा बेठ कहलाती है। उच्च जाति के लोग निम्न जातियों के सेवकों की भाँति कार्य करवाते थे जिसमे सभी प्रकार के निम्न कार्य…

0 Comments

Tribes of Himachal Pradesh – Gaddi Tribe

Tribes of Himachal Pradesh - Gaddi Tribe हिमाचल प्रदेश की जनजातियाँ -गद्दी जनजाति : गद्दी चम्बा के भरमौर क्षेत्र के निवासी हैं। ये लोग धौलाधार की घाटियों में बसते हैं। इतिहासकार, गदिदयों को मुस्लिम आक्रमणों के कारण पहाड़ों की ओर भाग कर आने वाले खत्री जाति के लोग मानते…

0 Comments

Folk Dances of Himachal Pradesh

Folk Dances of Himachal Pradesh Folk Dances of Himachal Pradesh ( हिमाचल प्रदेश के लोकनृत्य ) हिमाचल प्रदेश में अनेक प्रकार के लोकनृत्य है। विभिन्न क्षेत्रों के अपने अलग लोकनृत्य है जिनकी अपनी अलग पहचान है। उनके अपने अलग नियम है उन्ही नियमों के अनुसार नृत्य किये जाते है…

0 Comments

Famous Festivals in Himachal Pradesh

Famous Festivals in Himachal Pradesh Famous Festivals in Himachal Pradesh : त्यौहार किसी भी क्षेत्र में सांस्कृतिक जीवन की सही झांकी प्रस्तुत करते हैं। त्यौहार हमें एकता के सूत्र में जोड़ते हैं और इनका हमारे आर्थिक , धार्मिक सांस्कृतिक व सामाजिक जीवन से सीधा संबंध है। चैत-संक्राति, चतराली ,…

1 Comment